Author: admin

हिंदी वैचारिकी की हत्या ” ये भी राज़ हे मोदी की ज़बर्दस्त कामयाबी का भी ”

by — सिकंदर हयात विवाह समाज विचार से जुड़े तीन लेख लिखे लिखे हे पाठको . इन्ही तीनो लेखो में मोदी की भी ज़बर्दस्त कामयाबी का भी राज़ मिलता हे . ये समाज विचारो से नफरत करता हे , खासकर हिंदी विचारो या हिंदी में विचारो से खास कर हिंदी से बहुत नफरत करता हे . हिंदी से ये समाज और समाज की स्मार्ट लड़कियाँ इतनी नफरत करती हे इतनी नफरत करती हे की वो अनपढ़ को भी कह सकती हे ” वॉव पढ़ना लिखना नहीं जानते बिलकुल अनपढ़ सो क्यूट ” मगर हिंदी से गहरी चिढ हे खुद...

Read More

विवाह के लिए पागल विचार से नफरत करता हे ये समाज !

by – सिकंदर हयात यु ही थोड़ी ही ना इतनी ज़हरीली सरकार बनी हुई हे हालात ही ऐसे हे और भले लोगो की तरफ से हे तो बुरे लोगो क्यों ना हावी होंगे – मतलब ” भारत रत्न ” ( एक बहुत भले आदमी ) तक के लिए बड़ा संस्थान नौकरी रिपोर्टिंग अवार्ड ही सब कुछ हे यही सब कुछ हे विचार वैचारिकी इनके लिए इनके माध्यम से ही दो पैसे अपने ( और दूसरे भी ) लिए कमाने की कोशिश – सब ठलवागर्दी हे ——– ? नौकरी रिपोर्टिंग की मेहनत इन्हे नज़र आती हे , और वैचारिकी लाखो...

Read More

शशि थुरूर पर औरते क्यों फ़िदा होती हे इस कदर !

by -सिकंदर हयात Shadab Salim19 June at 19:51शशि थरूर पर औरतें क्यों फ़िदा होती है? यह इस सदी का रहस्मयी प्रश्न है बिल्कुल जैसे प्लास्टिक का अल्टरनेट क्या है?कैंसर का इलाज क्या है? इस प्रश्न को हल करने वाले को केमिस्ट्री का नोबेल भी दिया जा सकता है।अगर आप इस प्रश्न को हल कर दे तो नोबेल समिति को आपके नाम का एक आवेदन दे आऊंगा। शादाब सलीम~ ———————– Sikander Hayat 21 June at 22:24 · शशि थरूर पर औरतें क्यों फ़िदा होती है?——————————– बाकी तो बहुत सारी खूबी हे ही शशि थुरूर में मगर साथ ही ये भी...

Read More

विवाह पर नए ढंग से विचार शुरू करे समाज !

by — सिकंदर हयात एक तरफ एक अंतर्जातीय विवाह का मुद्दा छाया हुआ हे दूसरी तरफ भारत एक के बाद एक लोगो दुआरा आर्थिक और दूसरे दबावों से तंग आकर अपनी पूरी पूरी और प्यारी फैमली को ही मौत के घाट उतार कर खुद आत्महत्या करने की दिल दहला देने वाली घटनाएं हो रही हे गलत शादियों और गलत रिश्तो से लोग परेशान हे मनोरोगी हो रहे हे आज जरुरी हे की अब शादी के मुद्दे पर धर्म जाती वर्ग से थोड़ा सा हटकर इंसानी फ़ितरतो से विचार करते हे तो खेर पहले एक ताना की वैसे तो हिन्दू...

Read More

धोनी फैन्स! आपको स्वीकार करना होगा कि धोनी के जाने का समय आ गया है

by — – लव कुमार सिंह मेरी आज भी इच्छा है कि काश कपिल देव भारत की प्लेइंग इलेविन में होते, लेकिन क्या यह संभव है? धोनी फैन्स! आपको भी स्वीकार करना होगा कि धोनी के जाने का समय आ गया है It’s time to go for Mahendra Singh Dhoni Dhoni’s retirement is near किशोरावस्था और जवानी में हमें कपिल देव और उनका खेल बहुत अच्छा लगता था। कपिल देव के रहते भारत के हर मैच में एक श्रोता और दर्शक के तौर पर मन और शरीर में अजीब सा जोश रहता। कपिल देव के योगदान के बिना टीम...

Read More