women-ministers

अफ़ज़ल ख़ान

आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उन की मंत्रिमण्डल जब शपथ ले रहे तो उन्हो ने एक इतिहास रच दिया था. भारत के 67 साल के इतिहास मे पहली बार 7महिलाये एक साथ मंत्रिमण्डल मे शामिल की गयी. और उस मे भी 6 को कॅबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया है. इस से पहले और सभी राजनीतिक पार्टिया 1-2 महिला को मंत्रिमण्डल मे शामिल कर खानापूर्ति करते थे.नरेन्द्र मोदी ने अपने मंत्रिमण्डल मे 7 महिलाओ को मंत्री बना कर उन सभी विरोधियो का मुंह बंद कर दिया जो मोदी को महिला विरोधी बता रहे थे. मेनका गाँधी, सुषमा स्वराज ,हरसिमरत कौर बादल के अतिरिक्त स्मिरती ईरानी, नजमा हेपतुल्लाह और उमा भारती को भी मंत्रिमण्डल मे शामिल किया गया है. इस के अतिरिक्त पर्टी की परवक्ता निर्मला सीतारमण को आज़ाद राज्य मंत्री के तौर पर सरकार मे शामिल किया गया है.

नरेन्द्र मोदी के मंत्रिमण्डल मे नजमा हेपतुल्लाह अकेली मुस्लिम मंत्री श्हामिल है, मालूम हो के नजमा हेपतुल्लाह मौलाना अबुल कलाम आज़ाद की नवासी है और एक लंबे समय तक कांग्रेस मे रही मगर 2004 मे कांग्रेस छोड़ कर भाजपा मे शामिल हो गयी थी.स्मिरती ईरानी ने कॉंग्रेस के राहुल गाँधी के खिलाफ अमेठी से चुनाव लड़ा था मगर वो एक लाख वोटो से चुनाव हार गयी थी, मगर उन के इस अच्छे पर्फॉर्मेन्स के लिये उन्हे ए इनाम मिला.