CONFUCIUS

हम सभी ने कन्फ़्यूशियस का नाम जरूर सुना हो गा, कन्फ़्यूशियस चीन का एक मशहूर फिलॉसफी था वह एशिया का दिमाग कहलाता था और चीन के पुराने बादशाह उस से इल्म सिखने आते थे .ऐसे तो बहुत सी बाते है मगर में आज आप को कन्फ़्यूशियस की वह नसीहत जो उस ने उस समय के बादशाह को दी की बताता हु.

चीन में उस दौर में एक राजकुमार बादशाह बन गया और गद्दी पर बैठने से पहले कन्फ़्यूशियस के पास आया और कहा हजुर एक कामयाब बादशाह बनने के लिए क्या करना चाहिए , कन्फ़्यूशियस कुछ देर सोचता रहा और बोला बादशाह आप सब से पहले अर्थबयवस्था पे धयान दे , अगर आप के दौर में लगो को रोटी मिलती रहे गी तो जनता आप के लिए दुवा करे गी . बादशाह ने कहा इस के बाद क्या करू, कन्फ़्यूशियस ने कहा इस के बाद आप एक बड़ी फ़ौज तैयार कर ले अगर आप की सरहदे सुरक्षित रहे गी तो आप जनता के विकास और उन के हीत का ख्याल रख सके गे. बादशा ने कहा इस के बाद , कन्फ़्यूशियस ने कहा के बादशाह आप जनता में अपना एहतमाद क़ायम करे .अगर जनता आप पर यकीं करे गी और दिल से आप की इज्जत करे गी तो आप के खिलाफ कोई साजिश कामयाब नहीं हो सकती और आप की हुकूमत बहुत दिनों तक चले गी .बादशाह ये शिक्षा ले कर कन्फ़्यूशियस से इजाजत चाहि .

बादशाह वापस पलटा मगर कुछ दूर ही गया था के उस ने कुछ सोचा वह रुका और वापस आ कर बोला अगर हालात ख़राब हो जाए और मुझे इन तीनो में से कोई ऑप्शन छोड़ना पड़े तो सब से पहले में किसे छोड़ू. कन्फ़्यूशियस ने कहा के आप फ़ौज ख़त्म कर दीजिये गा क्यों के अगर आप की अर्थबयवस्था अच्छी है तो फ़ौज दुआरा बना सकते है .बादशाह ने कहा के अगर हालात ज्यादा ख़राब हो जाये और मुझे दो ऑप्शन छोड़ना पड़े तो किस को छोड़ू ,कन्फ़्यूशियस न कहा ऐ बादशाह तुम अर्थबयवस्था को छोड़ देना लेकिन कभी भी जनता के यकीन को धोका नहीं देना ,क्यों के अगर जनता के दिल में बादशाह का यकीन रहे गा तो अवाम आधी रोटी खा कर भी बादशाह का साथ देती रहे गी .कन्फ़्यूशियस ने कहा ऐ बादशाह जो हुकूमत और बादशाह का यकीन खो देती है वह ज्यादा दिन तक क़ायम नहीं रह सकती चाहे मुल्क का हर आदमी फौजी हो या मुल्क में सोने हीरे का ही पहाड़ क्यों न हो .बादशाह और हुकूमत की असल ताकत पैसा नहीं होती असल ताकत जनता का यकीन होता है इसे खोने मत देना .

अब आप खुद देखे के कांग्रेस ने जनता का एहतमाद खो दिया था इस लिए केंद की सरकार से हाथ धोना पड़ा और भाजपा सत्ता हासिल करने में कामयाब रही . चूंकि आब भाजपा को हुकूमत मिली है और अब वही गलती भाजपा भी कर रही है , जनता से किया गया वाद पूरा नहीं कर रही है , आने वाले चुनाव में भाजपा का भी यही हाल हो सकता है जो कांग्रेस का हुआ है.

काश आज कन्फ़्यूशियस जिन्दा होता और ये बात आज हमारे हुक्मरानो को समझा देता तो आज उन नेताओ के क्रडिबिलिटी और उन का किरदार बर्बाद नहीं होता , लेकिन शायद कन्फ़्यूशियस भी उन लोगो को नहीं समझा पता क्यों के जो भगवान या अल्लाह की नहीं सुनता वे कन्फ़्यूशियस की किया सुने गे .