politics

प्रदीप दुबे

लोक सभा इलेक्शन (सम रियली वेरी इंट्रेस्टिंग स्टेज) न्यूज़ चैनल , न्यूज़ पेपर देख देख कर मान भर गया लेकिन जिज्ञाषा अभी बाकि है बहुत सारी नई पुरानी बाते सुनने और देखने को मिली सो आप से भी शेयर करना चहूँगा ! कैंडीडेट और उनका ऐड करना भी काफी इंट्रेस्टिंग रहा !ख़ास तौर पर यूथ पर फोकस जादा ही किया गया चाहे कोंग्रस हो या बीजेपी या लोकल पार्टी सभी ने इस बार इलेक्शन 2014 मे अपनी जी जान क्रिएटिविटी के साथ इलेक्शन मे लगा दी फेसबुक , ट्विटर ने कुछ जादा ही अहम भूमिका निभाई तो वॉटसअप ने भी कोई कोर कसर नहीं छोड़ी .!

अकसर देखने मे आया की अपनी अपनी पार्टी को सपोर्ट करते करते फेसबुक ट्विटर वॉर तक हुए जो कई बार निजिता को पार कर गई एक तरह पार्टी के नेता जी ने मच से सब को खुलेआम चुनती दे डाली तो वही उनके युवा समर्थक ने फेसबुक एंड मेनी मोरे सोशल नेटवर्किंग साइट पर खुली बहश मे खुल कर हिस्सा लिया ! हर किसी ने अपने कैंडिडेट या पार्टी को सपोर्ट करने के लिया एक अलग ही तरीका अपनाया !कुछ अच्छे भी लगे कुछ बुरे भी कही कही चीजे बहुत वल्गर भी होती हुई दिखाई दी लेकिन इसे किसी को कोई फर्क नहीं पड़ा युवा जोश पूरी तरह से खुद को इस इलेक्शन मे इन्वॉल्व कर चूका था और इस बात का प्रूफ यही है की वोटिंग पर्सन्टेज पिछली बार से जादा गेन हुआ हर लोकशभा सीट – प्लेस मे वोटिंग पर्सन्टेज मे इजाफा हुआ है पिछली बार से जादा और कही कही 40 साल के रिकॉर्ड भी ब्रेक हुआ है

एक बात जो कुछ हद तक सिर्फ युवा को अकर्षिता करने के लिया की गई दोनों बड़ी पार्टी की तरफ से कोंग्रस और बीजेपी वो थी कामुकता ,सेक्स, मॉडल, सेमी न्यूड गर्ल का यूज़ अश्लील पोस्टर फोटो शूट और अपने चुनाव चिन्न के साथ उनका इस्तेमाल या किस मानशिकता की ओर इशारा करती है की आज का यूथ सेक्स या कामुकता का आदि हो गया है या या उसकी ज़रुरत बन गई है या फिर इस तरह के ऐड का सब से अच्छा तरीका विवाद ( कॉन्ट्रोवर्सी ) जिसका पूरा इस्तेमाल सभी पार्टी करती हुई नज़र आई इन २ तस्वीर मे आप बिलकुल स्पस्ट देख सकते है की दोनों सुन्दर गर्ल ko खुद किस तरीके से परोसे रही है सिर्फ कुछ पैसो के लिया मना, या इनका पेश है.. फिर सोचा पार्टी …? फिर भी एक बार तो सोचना चाइये था की ऐसी प्रमोशन ऐड से युवा मान मे क्या सन्देश जायेगा! लेकिन नहीं तो क्या ये ऐड युथ की डिमांड थी .. ये सोच आप की ! आखिर आज के युथ को इसी की क्या ज़रुरत जब बात कामुकता , सेक्स की हो तो युथ के पॉकेट मे हर वक़्त गूगल का सर्च अवेलेबल है! स्मार्ट फ़ोन के द्वारा हर यूथ जिसमे देशी से विदेशी गर्ल्स की न केवल सेमी न्यूड, फुल न्यूड , पोर्न वेबसाइट यू टूब सब कुछ अवेलेबल है फिर ऐसे एड ऐसे प्रचार के पीछे की मानसिकता क्या हो सकती है , विकास तो हर हाल मे चाहिए देश के हर युवा को .! फिर ये ऐड गुरु और हमरे महान पॉलिटीसन इस ऐड से किस विकास को दिखाना चाह रहे है अशीलता , खुद की मानसिकता और किस विकास को दिखाना चाह रहे है..! हाल मे ही — रणवीर कपूर के कंडोम का ऐड ने खूब धूम बटोरी पूरे मार्किट मे शायद आप लोगो को याद भी हो ‘व्हेन यू हावे ग्रेट सेक्स (‘When You Have Great Sex ) कुछ ऐसे ही..! मार्केट बदल रहा है, तो हमरे युवा भी बदल रहे है. और राजनेता भी, अभिनेता भी वही करते हुए नज़र आ रहे है जो आज की युवा सच मे चहती है—–फिर युवा तो व्हिस्पर का एड देखना चहता है 12 साल से 32 साल के युवा जो अविवहित है वो चहते है की व्हिस्पर का एड जब भी दिखाया जाये तो या फिल्माया जाये, आखिर मार्किट के इतने बड़े ग्राहक को जो बाद मे पूरी लाइफ व्हिस्पर खरीद ख़रीद कर घर ले जाते है उनकी इच्छा का अपमान क्यों या फिर हम या कहे की रणवीर ने एक अच्छी सुरुआत की है उसमे उनको थोड़ा और आगे जाना चाइये था फिर वही कहूगा 12 से 32 ऐज ग्रुप के यूथ जो अविवहित है फीमेल वो भी जानना चहती है आखिर कंडोम होता क्या है लगते कैसे है इसका यूज़ क्या है आदि आदि , ऐसा भी नहीं है की आज का युवा इतना मुर्ख है! उसे सब पता है सब जनता है टेक्नोलॉजी से परिचीत है आकाश मे जब युवा उड़ने की बात करता है तो उसे मालूम है पंख से नई ऐरोप्लॅन्स मे ही बैठ के उड़ा जायेग , फिर भी ऐड और मार्किट ने युवाओं को पूरा बेकूफ बना रखा है ब्रा के ऐड मे ब्रा पहने हुए एक सुन्दर सी सेक्सी लेडी आती है फिर पैंटी के एड मे भी सुन्दर सी सुपर सेक्सी फिगर के साथ कोई मॉडल आती है , अंडरवियर पहन पहना कर मेल मॉडल ने जॉकी से ले कर बहुत से नेशनल और इंटरनेशनल ब्रांड को सेल कर दिया है! ऐड कर करा के ऐड का जादू आज युवा के सर पर चढ़ कर बोल रहा है और इसी का नतीजा है की हर ऐड मे उसे फिल्माया जाता है – तो आज के युवा जो अपना भविष्य एक विकशित भारत मे देख रहे है वो उम्मीद कर सकते है की आने वाले समय मे व्हिस्पर और कंडोम दोनों को लगाना और इसका उपयोग अच्छे से हमरे ऐड गुरु दिखा कर सीखा कर ही सेल करेगे, कुछ ऐसा ही कोंग्रस और बीजेपी ने करने की कोशिस की है इन ऐड को देखने से तो यही लगता है काश की थोड़ी सद्बुद्धि आती इन बुड्ढे नेता को जो अपने नाती पोते के सामने इस तरह की तस्वीर दिखा रहे है चुनाव प्रचार के लिया बस यही काम पड़ा था बाकि तो सब कुछ कर चुके थे. इसे अच्छा तो न्यूड गर्ल पर बॉडी पेंट करवा कर हाथ का निशान बना दिया जाता जाता और बताया जाता की सारा काम हाथ से ही होता है और दूसर तरफ एक सेक्सी सी कन्या के खूबसूरत सरीर पर एक कमल खिला दिया जाता बॉडी पेंट के जरिये तो उसकी सुंदरता भी बढ़ जाती और आप का मकसद भी पूरा हो जता युवा जोश भी शयद उसे देख कर ठण्ड हो जाता और लोक तंत्र की जीत हो जाती .!

बाजार वाद और उस मे प्रचार ( ऐड ) की जो भूमिका है आज के टाइम पर वो किसी से छुपी नहीं हाल मे हे लोक सभा चुनाव २०१४ मे कई बार सुनने मे आया की मोदी गंजे को कंघी भी बेच सकते है तो या ब्रांडिंग ,मार्केटिंग और ऐड का हे जादू है .! और आज के टाइम पर बहुत ही सुलभ भी है बस जेब मे पैसा और एक अच्छी टीम होनी चाइये फिर कुछ भी बेचा जा सकता है और ऐसा ही कुछ हो भी रहा है हमरे ऐड गुरु ने तो बेशर्मी की हद ही बार कर दी है